मूवमेंट फॉर पीस एंड जस्टिस का उद्देश्य समाज में शांति और न्याय की स्थापना

औरंगाबाद : महाराष्ट्र की प्रतिष्टित जन आन्दोलन मूवमेंट फॉर पीस एंड जस्टिस ने अपने जिले और तालुका स्तर के अध्यक्षों की क्षमता विस्तार हेतु यहाँ गत शनिवार एवं रविवार को दो दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया! गौरतलब है कि यह संगठन महाराष्ट्र में राशन और स्वास्थ्य के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य संपादन करने के लिए जानी जाती है। संगठन ने सामाजिक एक्टीविज़म मुद्दे पर अपने कैडर की क्षमता निर्माण के लिए इस दो दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया था! 

इस अवसर पर मूवमेंट फॉर पीस एंड जस्टिस, महाराष्ट्र के प्रदेश अध्यक्ष मुहम्मद सिराज ने संगठन के उद्देश्य पर विस्तृत चर्चा करते हुए बताया कि हमारा उद्देश्य समानता और न्याय पर आधारित एक आदर्श समाज की स्थापना करना है! उन्होंने कहा कि बाबा साहब अम्बेडकर ने भी कहा था कि अगर लोग अच्छे न हों तो दुनिया का सबसे अच्छा कानून भी लाभ नहीं पहुंचा सकता है, इसलिए हम वे अच्छे लोग बनकर सामाजिक सरोकारों के मुद्दों पर प्रदेश में एक महत्वपूर्ण और सार्थक बदलाव लाने के लिए काम करते रहेंगे! हम ने समाज में शांति और न्याय पर आधारित एक स्वस्थ समाज बनाने का जो सपना देखा उसे मूर्त रूप देने के लिए हमें एम पी जे को जन जन की वाणी बनाना होगा! इस सभा को संबोधित करते हुए संगठन के कार्यकारिणी के सदस्य मोहम्मद अनीस ने एम् पी जे को एक सफल जनांदोलन बनाने के लिए विस्तृत रोडमैप प्रस्तुत किया!

इस कार्यशाला में फ़ूड एक्टिविस्ट एडवोकेट सुभाष गाएकवाड ने राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के विभिन्न पहलुओं पर प्रकाश डालते हुए सभी के लिए अनाज सुनिश्चित बनाने का लिए एमपी जे कार्यकर्ताओं का सफल मार्गदर्शन किया! इस प्रशिक्षण सत्र को शिक्षा, स्वास्थ्य, सांप्रदायिक सद्भाव, लोकतांत्रिक और संवैधानिक मूल्यों जैसे विभिन्न विषयों पर संबोधित करते हुए वक्ताओं ने एम् पी जे के लोगों को सामाजिक कल्याणकारी काम करने की प्रेरणा दी !


उर्दू टाइम्स 

No comments:

Post a comment

© Copyright 2015. MPJ, Maharashtra. This Blog is Designed, Customised and Maintained by Zinfomedia, the media arm of Brightworks Enterprises: Theme by Way2themes